Finance Ratio Kya Hai? |Finance Ratio KitneParkar Ke Hote Hai| 2023

Finance ratio kya hai

Finance Ratio Kya Hai? –  जो व्यक्ति शेयर मार्किट सीखना चाहता है उसके लिए यह पहला पड़ाव रहता है की फाइनेंस ratio क्या होता है और यह कहा पर उपयोग में आता है शेयर मार्किट के अंदर Finance Ratio सीखना बहुत जरूरी होता है

जब आप इसको सीखते है तब आप बिज़नस के बारे में अच्छे से सिख जाते है सभी तरह के बिज़नस के टर्म को सिख जाना भी अच्छा बताया जाता है 

दोस्तों हमने इस आर्टिकल के अंदर Finance Ratio क्या है इससे जुड़ी जानकरी दी है जिसमे आपको यह बतांगे की Finance Ratio कितनी प्रकार की होती है और इसे सिखने से क्या फायदा होगा लेकिन यह यह आर्टिकल आपको अंत तक पड़ना होगा 

Finance Ratio Kya Hai? 

जैसे की आपको यह समझना चाहिए की Ratio क्या होता है हम आपको बता दे की ratio को divide कहा जाता है divide से आप समझ चुके होंगे की दो चीजो का अनुपात दो चीजो को अनुपात में इसलिए रखा जाता है

जिसमे यह बताया जाता है की एक एक चीज दूसरी चीज से कितनी छोटी या बड़ी है जब आप Finance ratio को यह सीखते है की तो आपको शेयर मार्किट और बिज़नस इन दोनों  के बारे में पता लगता है जिसमे आपको दोनों का सीखना होता है

इन्हें भी पढ़े – 

  1. अपने बिज़नस के लिए लोन कैसे ले सकते है?
  2. working capital लोन क्या होता है?

Finance Ratio के प्रकार  

जब आप यह अच्छे से समझ जाते है की finance ratio kya hai? तब आपको यह सीखना चाहिए की यह कितने प्रकार का है तो चलिए हम आपको बताते है यह कितने पर का होता है 

Finanace Ratio ke parkar

Solvency Ratio 

कंपनी इसको Long Term के लिए उपयोग में लती है इसका उपयोग Debt Ratio को निकलने के लिए क्या जाता है दोस्तों Debt Ratio जितना अधिक होगा उतना ही कंपनी के लिए नुकसान देता है और जितना यह कम होता है उतना कंपनी के लिए फायदा होता है इसको समझने के लिए हम आपको एक फार्मूला और एक उदाहरण द्वारा समझाया जाएगा 

Debt Ratio का फार्मूला = Debt Ratio = Total Liability / Total Assets

अब हम इसको उदहारण द्वारा समझने की कोशिश करते है मान लेते है की कंपनी के पास 200000 का assets है और 100000 Loan है तो इसका Debt Ratio कुछ इस तरह होगा 

100000/200000 तो इसका Debt Ratio 50% बनेगा 

Profitability Ratio 

Finance के अंदर यह कंपनी का सबसे अच्छा Ratio होता है इससे यह पता लगता है की कंपनी कितना प्रॉफिट में है और यह कंपनी को पसंद भी आता है जो शेयर मार्किट करते है उनके लिए कंपनी अगर प्रॉफिट में जाती है तो उनका शेयर price बड जाता है अगर Profitability Ratio के फार्मूला की बात करे तो हम आपको इसका फोमुला  भी बताते है 

Profitability Ratio = Net Income / Total sales

Dividend Payout Ratio 

जब कंपनी प्रॉफिट कमाती है तो वह अपने शेयर होल्डर में अपना प्रॉफिट बाट देती है इसके उदहारण को इस तरह समझने की कोसिस करते है मान लीजिए किसी कंपनी को 1000 का फायदा होता है तो उसके पास सिर्फ 100 शेयर है तो वह कंपनी अपने प्रॉफिट में से अपने शेयर शोल्डर को 500 तक का शेयर में बदतरी करती है इसका फार्मूला कुछ इस तरह है 

Dividend Payout Ratio = Total dividend / Net Income

Activity Ratio 

इस ratio के अंदर हमे कंपनी की productivity और काम करने का पता चलता है और यह पता चलता है की कंपनी ratio का उपयोग करके किस तरह से अपनी सेल्स को बढाती है इसके लिए हमे एक अच्छा उदहारण से समझना होगा जैसे की कंपनी की प्रोडक्शन 20 लाख की है और वह अपनी कंपनी के एसेट्स सिर्फ 5 लाख के उपयोग में लाते है तो चलिए इसके फोर्मुले पर नजर डालते है 

Inventory Ratio = Cost Of Good Sold / Average Inventory 

Liquidity Ratio

यह हमे बताता है की कंपनी के एसेट्स और लोन का ratio क्या होता है इसका प्रयोग हम किसी भी कंपनी के शोर्ट टर्म के परफॉरमेंस के आधार पर किया जाता है यह कंपनी के लिए जितना ज्यादा होगा उतना ही अच्छा होगा इसके माध्यम से यह पता चलता है की कंपनी के assets और लोन कितना है तो चलिए अब इसके फोर्मुले के बारे में बात करते है 

Current Ratio = Current assets / Current Liability 

Finance Ratio के फायदे 

  • जो शेयर मार्किट में नए होते है उनके  लिए यह समझाना जरूरी होता है शेयर मार्किट में जाने से पहले 
  • जब आप शेयर Finance Ratio को समझ जाते है तो आपको अधिक फायदा मिलेगा 
  • फार्मूला द्वारा कैलकुलेशन करना बहुत आसान हो जाता है 
  • जब आप Finance Ratio को समझ जाते है तो आपको कंपनी के उतार चढ़ाव भी अच्छे से समझमे आने लगते है 

निष्कर्ष – Finance Ratio Kya Hai?

दोस्तों जैसे की आप गये होंगे की Finance Ratio kya hai? इसमें हमने अनेक तरह की महत्वपूर्ण जानकरी को बताया है अगर आपको यह आर्टिकल पसदं अत है तो comment बॉक्स में जरुर बताए अगर आर्टिकल के सम्बन्धित कोई जानकरी या सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में जरुर बताए 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *